Agriculture News and Jobs

For Clean, Smart and Profitable Farming.

Krishi News

कोलकाता में इंडियन सीड कांग्रेस, 2017

केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री, श्री राधा मोहन सिंह ने कहा है कि केन्द्र सरकार का उद्देश्य कृषि विकास क्षमता को गति देना, गांवों में आधारभूत सुविधाएं विकसित करना, मूल्य वर्धन(वैल्यू एडिशन) को बढ़ावा देना, कृषि-व्यवसाय के विकास में तेजी लाना, ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार सृजन करना, किसानों और कृषि कामगारों और उनके परिवारों की आजीविका स्तर सुनिश्चित करना, शहरी क्षेत्रों में पलायन हतोत्साहित करना और आर्थिक उदारीकरण और वैश्विकरण से उत्पन्न चुनौतियां का सामना करना है। श्री राधा मोहन सिंह ने यह बात आज कोलकाता में इंडियन सीड कांग्रेस – 2017 के उद्घाटन के मौके पर कही।

आगे पढिए...

भारत का दुग्ध उत्पादन 2014-15 में 146.31 करोड़ टन हुआ है |

केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टिट्यूट में आयोजित एक कार्य्रकम में यह जानकारी दी कि भारत का दुग्ध उत्पादन 2014-15 में बढ़कर 146.31 करोड़ टन पहुंच गया है, और दूध की प्रति व्यक्ति उपलब्धता भी बढ़कर 302 ग्राम हो गई है | बस इतनाही नही तो विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा सुझाई गई न्यूनतम मात्रा से यह मात्रा अधिक है।

आगे पढिए...

कृषि विकास दर बढ़कर 4.1 प्रतिशत हो गई है: श्री राधा मोहन सिंह |

केंद्रीय कृषि एंव किसान कल्याण मंत्री, श्री राधा मोहन सिंह ने कहा है कि पिछले वर्ष का 2 प्रतिशत कृषि विकास दर का इस वर्ष बढ़कर 4.1 प्रतिशत हो जाना इस बात को दर्शाता है कि सरकार किसानों और खेतीबाड़ी की बेहतरी के लिए कितनी गंभीरता से काम कर रही है।

आगे पढिए...

भारत और इजरायल कृषि क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध ।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री राधा मोहन सिंह से इजरायल के कृषि एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री यूरी एरियल की अगुवाई वाले इजरायली प्रतिनिधिमंडल ने भेंट की। इस दौरान भारत और इजरायल के बीच कृषि क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग से जुड़े मुद्दों पर विचार-विमर्श किया गया।

आगे पढिए...

मृदा नमी संकेतक के लिए लाइसेंस समझौता ।

नेशनल रिसर्च डेवलपमेंट कारपोरेशन (एनआरडीसी) के अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक डॉ. एच. पुरुषोत्‍तम ने सूचित किया है कि एनआरडीसी को देश में मृदा नमी संकेतक के विनिर्माण के लिए तकनीकी ज्ञान की कमर्शलाइजिंग/ लाइसेंसिंग के लिए नोडल एजेंसी नियुक्‍त किया गया है।

आगे पढिए...

2015-16 के दौरान 60 लाख मृदा नमूना का परीक्षण किया गया ।

वर्ष 2015-16 के दौरान 104 लाख मृदा नमूनों को एकत्रित करने का लक्ष्य है और किसानों के लिए स्वाइल हेल्थ कार्ड योजना के तहत उनका परीक्षण किया जाना है। आंध्र प्रदेश, केरल, मेघालय, नगालैंड, तेलंगाना, सिक्किम, गुजरात, त्रिपुरा, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, पंजाब, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल और हिमाचल प्रदेश जैसे राज्यों में 90 फीसदी नमूने एकत्रित कर लिए गए हैं।

आगे पढिए...

राष्ट्र में बीज हब का निर्माण किया जा रहा है- श्री राधा मोहन सिंह

कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री, श्री राधा मोहन सिंह ने भारतीय दलहन अनुसंधान संस्‍थान, कानपुर द्वारा अंतर्राष्‍ट्रीय दलहन वर्ष के उपलक्ष्‍य में कार्यक्रम को आज सम्बोधित किया। श्री सिंह कहा कि भारत सरकार ने इस वर्ष के आम बजट में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन के अंतर्गत दलहनी फसलों की उत्पादकता तथा उत्पादन बढ़ाने हेतु 500 करोड़ रू. के बजट का प्रावधान रखा है जिससे देश में दलहन सुरक्षा की ओर हम कई कदम आगे बढ़ेंगे।

आगे पढिए...